पुरुषों के वीर्य में शुक्राणु का कम होना और इसका इलाज: डॉ सुमिता सोफत

पुरूषों के वीर्य में शुक्राणु का कम होना और समस्याएं

QUICK INQUIRY


जानिए पुरुषों के वीर्य में शुक्राणु का कम होना और इसका इलाज डॉ सुमिता सोफत से, आज कल प्रजनन क्षमताओं से जुडी समस्याएं उजागर हो रही है। यह समस्याएं केवल स्त्रियों में ही नहीं पायी जाती बल्कि ये बहुत सारे पुरुष इन समस्याओं से पीड़ित है। पुरषों की प्रजनन क्षमता सम्बन्धी समस्या उनके वीर्य में पायी जाती है।Gynaecologist in Punjab का कहना है की यदि वीर्य मई शुक्राणुओं की मात्रा कम हो या फिर न बराबर हो तो उनकी स्त्री सहयोगी गर्भ धारण करने में मुश्किल का सामना कर सकती है। यदि एक जोड़ा पिछले एक साल से माता-पिता बनने की कोशिश कर रहे हैं परन्तु किसी अभाव के चलते वह इस प्रयास को सफल नहीं हो पा रहे तो उन्हें IVF centre in Punjab की सहायता लेनी चाहिए।

चलिए जानते है ऐसी ही कुछ वीर्य सम्बन्धित समस्याएं जो पुरुषों को उनके बाप बनने की ख़ुशी से वंचित रख रही हैं।

  • शुक्राणुओं की कमी

यदि किसी मर्द के वीर्य में शुक्राणुओं की कमी हो तो वह स्त्री द्वारा उपजाए जा रहे अंडे को शुक्राणुओं से भ्रूण नहीं बना सकते।

  • शुक्राणुओं का न होना 

यदि शुक्राणुओं की कमी से भ्रूण धारण करने में विपत्ति आ सकती है तो शुक्राणुओं के न होने से तो ये प्रक्रिया शुरू ही नहीं हो सकती।

पाठक के दिमाग में बी ये प्रश्न आ रहा होगा की किन कारणों की वजह से ये शुक्राणु संबधित समस्याएं प्रकाशित हो रही है। तो चलिए जानते है कुछ ऐसे कारण:

  • खान-पान का ध्यान न रखना

सर्वप्रथम तो यदि कोई पुरुष अपने खान-पान का ध्यान नहीं रख रहा अपितु ऐसे भोजन का सेवन कर रहा है जिसमें कोई भी पौष्टिक तत्व नहीं है या फिर वो भोजन पूरी तरह से तेल में टाला गया है जिसके कारण पुरुषों का प्रजनन तंत्र सही तरह से वीर्य नहीं बना पा रहा।

  • बीड़ी शराब या तम्बाकू का सेवन करना 

यदि कोई पुरुष बीड़ी शराब या तम्बाकू का सेवन करता है। और सेवन भी इस तरह किया जा रहा है की ये प्रजनन प्रणाली को पूरी तरह से तहस नहस कर दे तो यह समस्या ध्यान देने लायक है। इन सब पदार्थों के सेवन से प्रणाली उचित वीर्य की उत्पत्ति नहीं कर पाती।

  • अनुवांशिक समस्याएं 

अनुवांशिक समस्याओं के चलते भी पुरुष की प्रजनन प्रणाली इस तरह काम नहीं करती जिस तरह इसे करना चाहिए। पर इसमें घबराने की कोई बात नहीं जब तक हम है आपकी समस्या में आपके भागिदार बनके उसे हल करने के लिए।

  • अक्सर सम्भोग करना 

यदि एक जोड़ा अक्सर सम्भोग करता है तो उससे पुरस्क के वीर्य में समस्या उजागर होती है। यह हमेशा सुझाया जाता है की निरंतर और प्रतिदिन सम्भोग करना न ही स्त्री सहयोगी के लिए फलदायक है न ही पुरुष के लिए।

  • साफ़ सफाई का ध्यान रखना

 आपको अपने अंतरंग भागों की साफ़ सफाई का पूरन रूप से ध्यान रखना चाहिए। साफ़ सफाई के आभाव में बहुत सारी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY