आईवीएफ सेंटर का चुनाव सही से करें और सफलता दर को बढ़ाने की उपाय

आईवीएफ सेंटर का चुनाव सही से करें और सफलता दर को बढ़ाने की उपाय

यदि आप बेस्ट IVF Centre in Punjab की खोज में है तो आपको सेंटर का चुनाव बहुत हो ध्यान करना चाहिए | कोई भी फैसला आपको जल्दबाज़ी में नहीं लेना चाहिए और पूरी परिक्रिया के दौरान आपको पॉजिटिव सोच रखना बहुत ही ज़रूरी है | Dr Sumita Sofat बहुत ही जानी मानी infertility clinic in ludhiana की डॉक्टर है जिनकी ट्रीटमेंट एंड एक्सपीरियंस की मदद से बहुत सारे दम्पतियों को माँबाप बनने की ख़ुशी प्रपात हुई है | यह समझना ज़रूरी है की इस परिक्रिया की सक्सेस को बढ़ाने के बहुत सरे फैक्टर्स है | पर ऐसी भी कोई गरंटी नहीं की कुछ चीज़ों को करने से आपको सफलता मिल सकती है | हाँ यह ज़रूर के सकते है की टेस्ट ट्यूब बेबी के सफलता में बदलाव लाने के लिए आप कुछ चीज़ों को रोज़ करें, जिससे की सफलता दर में सुधर आ सकता है | और ध्यान रखे की चाहे महिला हो या पुरुष दोनों को ही अपने दिनचर्या में बदलाव लाने होंगे जिससे की आईवअफ का सक्सेस रेट बढ़ सके |

IVF सक्सेस रेट को बढ़ाने के लिए क्या करें ?

IVF ट्रीटमेंट के सफलता दर का सक्सेस रेट लगभग 70% से ऊपर जा सकता है | यह हर दम्पति में अलगअलग होता है | आपके डॉक्टर से साथ आपको भी उतना ही ध्यान देना होगा, ताकि सब कुछ सही तरीके से जा सके | जैसे की आपको खाने में अच्छी चीज़ों को डालना होगा , अपने सेहत पर ध्यान देना और जो भी आपको डॉक्टर बताएं उसी प्रकार आपको सब करना चाहिए | नीचे दी गई चीज़ों को आपको अपनी रोज़ की दिनचर्या में डालना होगा :

  • सबसे पहले तो जो भी बदलाव करने है वह आपको लागबहग 2 महीने पहले शुरू कर देना

चाहिए |

  • आपको फास्टफूड खाना बंद करना होगा और कुछ भी तलाभुना नहीं होना चाहिए | आपको हरी सब्जियाँ और फल जितना भी हो सके खाएँ |
  • जो भी खाएँ, वह सब घर पर बना होना चाहिए |
  • अपने वजन को संतुलित रखे, यदि आपका वज़न बहुत ही बड़ा हुआ है तो आपको योग या एक्सरसाईज के ज़रिये उसको कम करना होगा |
  • शराब, सिगरेट, या किसी भी तरह का हानिकारक प्रदार्थ आपको नहीं लेना चाहिए |
  • आपको सिर्फ उन लोगो के साथ रहना चाहिए जो आपको इस समय पर साथ दें | किसी भी तरह का तनाव मत लें |
  • पानी ज़्यादा मात्रा में लें |
  • 7 से 8 घंटो की नींद ज़रूरी है |

अंडे निकाले जाने और भ्रूण प्रत्यारोपण के पहले

  • अंडो को निकालने से पहले आपको जो भी दवाएँ दी गई है उनको सही समय पर लें |
  • जिस दिन अंडे निकालने को उस दिन आप डिओडरेंट और परफ्यूम का इस्तेमाल न ही करें क्यूंकि इससे एम्ब्र्यो की क्वालिटी पर बहुत ही ज़्यादा फरक पड़ता है |
  • अंडो को निकले जाने से पहले 12 बजे के बाद आपको कुछ भी नहीं खाना या पीना चाहिए | यह इसलिए भी ज़रूरी है क्यूंकि आपको एनेस्थीसिया दिया जाता है |
  • जब अंडो को निकाल दिया जाता है तो आपको आराम करना ज़रूरी है |

एम्ब्र्यो ट्रांसफर के बाद आपको क्या ध्यान में रखना होगा

जिस दिन आप एम्ब्र्यो ट्रांसफर के लिए IVF centre आएँ उस दिन हल्का नाश्ता करके आएँ और आपको उसके बाद कम से कम 2 से 3 दिनों के आराम करना होगा |

आईवीएफ के बाद क्या करें

आपको पूरी तरह बेड रेस्ट करने की कोई ज़रुरत है और आप बिना किसी परेशानी के छोटेछोटे काम कर सकते है | डॉक्टर आपको 2 हफ्तों के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए बुलायेंगे, जिसमे की आपके हॉर्मोन का स्तर देखा जाता है जो की ब्लड टेस्ट के द्वारा चेक होता है |