ब्लॉक फैलोपियन ट्यूब: नलों में दर्द को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए – डॉ सुमिता सोफत

ब्लॉक फैलोपियन ट्यूब नलों में दर्द को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए - डॉ सुमिता सोफत 2

QUICK INQUIRY


शादी के बाद आज कल देखा जा रहा है की बांझपन की समस्या बहुत ही बढ़ती चली जा रही है। वैसे तो बांझपन के लिए कई कारण हो सकतें है परन्तु ट्यूबों का ब्लॉक होना एक सबसे बड़ा कारण है। कई बार महिलायें अमूमन नल्लो में दर्द को गम्भीरता से नहीं लेती और जिसके कारण ट्यूबें बंद हो जाती है और गर्भ धारण नहीं कर पाती है।

ये सब जानकारी हमें सोफत इनफर्टिलिटी वुमन केयर सेंटर बांझपन की माहिर डॉक्टर सुमिता सोफत ने एक हेल्थ टॉक के दौरान हमें दी। डॉ. सुमिता सोफत ने बताया की ज्यादा तर बांझपन की समस्या 40 प्रतिशत केसों में सिर्फ पुरुष में और  40 प्रतिशत केसों में महिलायें में व 10 प्रतिशत केसों में दोनों में पायी जाती है। जो भी महिलायें पहले जो बांझपन की समस्या लेकर आती है उनकी सबसे पहले बच्चेदानी, अण्डेदान्नी व ट्यूब का चेक किया जाता है जिसमें बार बार ज्यादा तर ट्यूबों का ब्लॉक होना पाया जा रहा है।

ब्लॉक फैलोपियन ट्यूब नलों में दर्द को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए - डॉ सुमिता सोफत
source: Dainik Savera times News – Doctor Sumita Sofat Health talk 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY